चुनावी रंजिश में फिर हुआ खूनी संघर्ष, जमकर चली गोलियां, ईट, पत्थर

RtvBharat24.
सीतापुर। रुझान आने के बाद चुनावी रंजिशें खूनी संघर्ष के रूप में सामने आने लगी हैं। कोतवाली देहात क्षेत्र की कचनार पुलिस चौकी में तोड़फोड़ की घटना के दूसरे ही दिन इसी क्षेत्र के कनवाखेड़ा गांव में गुरुवार को जमकर बवाल हुआ। चुने गए प्रधान व हारी महिला प्रत्याशी के समर्थकों में भिड़ंत हो गई। बात बढ़ी तो दोनों ओर से सैकड़ों लोग एकत्र हो गए। नतीजे में जमकर पथराव व फायरिंग हुई। हारे प्रत्याशी के पति व जिला पंचायत सदस्य की गाड़ी तोड़ दी गई। कई लोग चोटिल हुए, जबकि जीते प्रधान के पक्ष के पांच लोग घायल हुए। जिनमें से तीन लोगों को गोली लगी है। उन्हें इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है। मौके पर कई थानों की पुलिस, पीएसी तैनात है। पुलिस ने जीते प्रधान, हारी महिला प्रत्याशी व उसके पति सहित करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया है।

शहर से सटी कनवाखेड़ा ग्राम पंचायत के पूर्व प्रधान व इस बार जिला पंचायत सदस्य बने हाजी रिजवान ने इस बार की प्रधानी चुनाव में यहां से अपनी पत्नी को चुनाव लड़ा था, लेकिन उनकी पत्नी चुनाव हार गई और यहां से महाराज यादव प्रधान चुने गए। वैसे तो दोनों पक्षों में चुनाव पूर्व से टशन चल रही थी, लेकिन चुनावी रुझान आने के बाद टशन ने खूनी संघर्ष का रूप ले लिया। सूत्र बताते हैं कि गुरुवार की दोपहर करीब 11 बजे दोनों पक्षों के समर्थकों में विवाद हुआ। बात बढ़ी तो एक ओर से प्रधान महाराज व दूसरी ओर से हाजी रिजवान पक्ष आ गया। दोनों पक्षों में करवाखेड़ा गांव में पथराव, गाली गलोज हुआ। उसके बाद दोनों ओर से फायरिंग होने लगी। सूत्रों का दावा है कि करीब 10 राउंड फायरिंग हुआ। खबर पाते ही एएसपी डॉ राजीव दीक्षित, एसडीएम अमित भट्ट, सीओ पीयूष कुमार सिंह, शहर कोतवाल टीपी सिंह सहित करीब पांच थानों की पुलिस, भारी पीएसी बल मौके पर पहुंच गया। पुलिस ने वहां मौजूद लोगों को खदेड़ कर भगाया। जिला पंचायत सदस्य हाजी रिजवान का कहना है कि उनके भाई पर हमला किया गया। गाड़ी तोड़ दी गई। उनके लोगों को निशाना बनाकर पथराव व फायरिंग की गई। जिसमें कई लोग चोटिल हुए हैं। दूसरी ओर प्रधान महाराज का कहना है कि उनके लोगों का निकलना मुश्किल कर दिया गया है। हाजी रिजवान की ओर से दर्जनों राउंड फायरिंग की गई है। जिससे उनके परिवार का फौजी रोहित व सुशील, अंकित गोली लगने से घायल हुए हैं। उनको जिला अस्पताल भेजा गया है। साथ ही अजय सहित करीब पांच अन्य लोग भी घायल हुए हैं। उनका कहना है कि उनके परिवार का युवक खरीदारी करने गया था। तभी रास्ते में घेर कर उस पर हमला किया गया है। जिसके बाद जब वह लोग बचाव में गए तो उन पर भी हमला किया गया। दोनों पक्ष अब पुलिस को सफाई दे रहे हैं कि झगड़ा दूसरे पक्ष ने किया है। पुलिस ने एक पक्ष से प्रधान महाराज दूसरे पक्ष से हाजी रिजवान उनके दो भाइयों, पत्नी सहित करीब छह लोगों को हिरासत में लिया है। एहतियात के तौर पर गांव में भारी संख्या में पुलिस व पीएसी बल तैनात कर दिया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक डॉ राजीव दीक्षित का कहना है कि चुनावी रंजिश में दोनों पक्षों में विवाद हुआ है। दोनों पक्षों के कई लोग हिरासत में लिए गए हैं। तहरीर आने पर मुकदमा दर्ज कर दोनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कानून व्यवस्था को लेकर कोई दिक्कत नहीं है। पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: