कोरोना में उम्मीद की किरण बन कर आयी “स्प्रेड हैपिनेस क्लब” संस्था

RtvBharat24.
*संस्था ने बढाया हाँथ बहुतो को मिला उपचार का साथ*

सीतापुर। करोना की दूसरी लहर की भीषण विभीषिका के बीच स्थानीय संस्था स्प्रेड हैप्पिनेस क्लब द्वारा किया जा रहा टेली मेडिसिन और ऑन लाइन योगा क्लास अभियान लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है।
महज जिले ही नहीं बल्कि दूर दूर के लोग इस अभियान का हिस्सा बनकर लाभान्वित हो रहे है। ,
पिछले दिनों सरकार द्वारा मेडिकल स्टॉफ की कमी को देखते हुए एमबीबीएस अंतिम वर्ष के छात्रो की सेवाएं लेने का फैसला लिया गया था,दूसरी तरफ निजी डॉक्टरो ने भी मरीज देखने से किनारा कर रखा था जो अभी भी जारी है। ऐसे में एमबीबीएस पूर्ण कर चुके और अंतिम वर्ष के छात्रो ने आगे आकर समाज की सेवा करने का संकल्प लिया।क्लब के संयोजक डॉक्टर यथार्थ शुकल बताते है कि मुश्किल भरे ऐसे समय में जब लोगों को डॉक्टरी सलाह नहीं मिलती तो वो और बेचैन हो जाते है। ऐसे में जरूरत इस बात की है कि उन्हें सही समय पर सही सलाह मिले। इसी को देखते हुए उन्होंने अपने डॉक्टर मित्रों से मशविरा किया और दिवसवार और समयनुसार डॉक्टरो का एक पैनल तैयार किया गया, जो किसी भी स्वास्थ्य समस्या के संबंध में उचित सलाह देने के लिए हर समय तत्पर रहा। इसमें पूरे प्रदेश ही नहीं पड़ोसी राज्यों के लोग भी शामिल रहे। इस टेली मेडिसिन अभियान में डॉक्टर यथार्थ के स्वयं के साथ ही
डॉक्टर सौरभ यादव,वरुण गुप्ता,एंजिल दीक्षित,,डॉक्टर विकास ,डॉक्टर निहारिका दीक्षित,डॉक्टर संदीप,डॉक्टर अगम अवस्थी ,पार्थ् कटियार,शुभम,अंजली,अतुल गोस्वामी,चन्द्रिका,डॉक्टर उर्म ,निशंक वर्मा,अजय ठाकुर,ललित कुमार और डॉक्टर अमित बंगाली और डॉक्टर तृषा और डाक्टर जया प्रमुख है। एक आंकड़े के अनुसार इसके जरिये अब तक एक हज़ार से भी अधिक लोगों को आवश्यक सलाह दी गई है। कुछ मरीजों को जरूरत पड़ने पर अस्पताल में भर्ती भी कराया गया।
डॉक्टर यथार्थ ने बताया बहुत अधिक सतर्क रहने की जरूरत है।व्यक्ति की प्रतिरोधक क्षमता अच्छी होगी तो उसको बीमारी होगी ही नहीं और अगर हुई भी तो उसका प्रभाव न के बराबर होगा। इसको देखते हुए संस्था द्वारा व्यस्क,बच्चों महिलाओंं और वृद्ध के लिए अलग अलग योग के यू-ट्यूब शेषन भी आयोजित किए जा रहे है जो लोगों के लिए बड़े उपयोगी साबित हो रहे है और लोग इससे नियमित रूप से जुड़ रहे है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा जागरूकता को लेकर प्रतिदिन वेबनार्भी आयोजित होते है जिसकी सुचना पहले ही दे दी जाती है। गौरतलब है कि क्लब अपने स्तर से जरूरत पडने पर आक्सिजन सिलेंडर और दवाये भी उपलब्ध करा रहा है।
करोना की पिछली लहर के दौरान भी क्लब द्वारा जागरूकता के अनेकोंं कार्यक्रमों के साथ ही आवश्यक उपकरणो का भी वितरण किया गया था। आज के ऐसे मुश्किल वक़्त में सीतापुर की इस संस्था की ये पहल उम्मीद की एक किरण बनकर आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: